Home Indian constitution Election commition of India| what is role of Election Commition in India

Election commition of India| what is role of Election Commition in India

इलेक्शन कमिशन क्या है? Election Commition कैसे काम करता है? इसके बारे में आज हम लोग जानेंगे।

election-commition-in-hindi

 Election Commition बारे में-

  1. Election Commition एक संवैधानिक निकाय है।
  2. इसकी स्थापना 25 जनवरी 1950 को की गई थी।
  3. इसके पहले चेयरमैन सुकुमार सैन थे।
  4. यह लोकसभा, राज्यसभा, विधानसभा, विधान परिषद, राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति का चुनाव कराता है।
  5. यह चुनाव क्षेत्रों का परिसीमन, मतदाता सूची, आचार संहिता राजनीतिक दलों के लिए तैयार करता है।
  6. राजनीतिक दलों को मान्यता एवं चुनाव चिन्ह प्रदान करता है।
  7. वर्तमान में Election commition में 3 सदस्य होते हैं जिनमें 1 मुख्य निर्वाचन आयुक्त और दो अन्य निर्वाचन आयुक्त होते हैं।
  8. वर्तमान में सुनील अरोड़ा चीफ इलेक्शन कमिश्ननर हैं, अशोक लवासा और सुशील चंद्रा इसके अन्य इलेक्शन कमिश्ननर है।
  9. इनकी नियुक्ति राष्ट्रपति द्वारा की जाती है।
  10. इनका कार्यकाल 6 वर्षों या 65 वर्षों की आयु तक होता है, जो भी पहले हो।
  11. इनका कार्यकाल राष्ट्रपति निर्धारित करता है।

isse bhi dekhe- Indian Constitution starting story

Election Commition के मुख्य निर्वाचन आयुक्त और अन्य निर्वाचन आयुक्त को अगर हटाना हो-

इलेक्शन कमिशन के मुख्य निर्वाचन आयुक्त को सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीशों के हटाने की प्रक्रिया से ही हटाया जा सकता है। जबकि अन्य निर्वाचन आयुक्त को राष्ट्रपति द्वारा मुख्य निर्वाचन आयुक्त की सिफारिश पर ही हटाया जा सकता है।

video- What is MCA-21

भारत में 8 नेशनल पार्टी हैं-

  1. INC- Indian National Congress
  2. CPI- Communist Party of India
  3. CPIM- Communist Party of India Marxist
  4. BJP- Bharatiya Janata Party
  5. BSP- Bahujan Samaj Party
  6. AITC- All India Trinamool Congress
  7. NCP- National Congress Party
  8. NPP- National People’s Party

isse bhi dekhe- What is Article 370

अगर नेशनल पार्टी बनानी हो-

किसी भी राजनीतिक दल को राष्ट्रीय दल का दर्जा प्राप्त करना हो तो उसे Election Commition की तीन शर्तो में से एक शर्त को पूरा करना होगा।

  • यदि कोई राजनीतिक दल तीन अलग-अलग राज्यों में कुल लोकसभा की दो% सीटें हासिल करता है तो उसे दर्जा मिल सकता है।
  • अगर किसी दल को लोकसभा या राज्यसभा में चार राज्यों के कुल मतों में से 6% वोट मिला हो और लोकसभा की भी 4 सीटों पर जीत दर्ज करनी होती है।
  • किसी दल को 4 या उससे अधिक राज्यों में स्टेट पार्टी का दर्जा प्राप्त हो तो वह नेशनल पार्टी बन जाएगा।

What is CAA,NRC, NPR

स्टेट इलेक्शन कमीशन-

ग्राम पंचायत और नगरपालिका का चुनाव स्टेट इलेक्शन कमीशन द्वारा होता है। राज्य निर्वाचन आयुक्त की नियुक्ति राज्यपाल करता है।

samjhakya
Hello, I'm Anoop Rajvanshi and founder of samjhakya.com . Samjhakya is best portal for educational blogs here you can get detailed knowledge. Thankyou

Most Popular

Arnab Goswami Arrested by Mumbai Police| Full case explanation in Hindi

हेलो दोस्तों आज हम Arnab Goswami के Arrest पर कुछ बात करेंगे। जो कि इस टाइम की सबसे बड़ी खबर बन चुकी है। अर्नब...

Narco Test Kya Hota Hai full Detailed Knowledge in Hindi- Samjha Kya

हैलो दोस्तों आज हम Narco Test के बारे में बात करेंगे। यह नारको टेस्ट होता कैसे है? इसे क्यों करवाया जाता है? इससे फायदा...

Portfoliyo Management Kya Hota Hota Hai?- samjhakya.com

हैलो दोस्तों आज हम Portfolio Management के बारे में बात करेंगे। यह पोर्टफोलियो मैनेजमेंट होता क्या है? और इसे करते कैसे हैं? इस मैनेजमेंट...

What is Code of Conduct? आचार संहिता चुनाव के लिये क्यो जरूरी है?

दोस्तों, यह तो आप सभी ने सुना होगा कि हमारे यहां पर जब कभी किसी पार्टी के चुनाव होते हैं तो उसके कुछ दिन...